How to Trace Emails? Track their IP Address in Hindi

जब भी आपके Gmail या Outlook पे कोई नोटिफिकेशन आता है , तो सबसे पहले आप ये पता करते है की ये मेल किसने भेजा है। हालांकि जीमेल पर उसका पता दिया रहता है जिसने उसे भेजा है। मगर आपको पता होना चाहिए की  email पर इसके अलावे भी और बहुत सी जानकारिया होती है जो आपको ये जानने में मदद करती है की इस ईमेल का सोर्स क्या है। 

हाउ तो ट्रेस ईमेल और उसके IP एड्रेस का पता कैसे पता करे।

Email से कैसे पता करे उस मेल का IP address

आपको Email address क्यों ट्रेस करना चाहिए ?

ये जानने से पहले की ईमेल को कैसे ट्रेस किया जाता है आपको ये पता करना होगा की हमे ईमेल एड्रेस की जाँच क्यों करनी चाहिए। 

आजकल बहुत से ऐसे लोग होते है जो साइबर क्राइम में संलित्प होते है, उनका काम इस तरह के मेल भेजना जिससे आपके कंप्यूटर या जो भी काम आप कर रहे है उसके डाटा को नुक्सान पहुंचना उनका मकसद होता है। वे मुख्य तौर पर आपको scams ,spam , malware,और फिशिंग इमेल्स आपको भेजते है। 

यदि आप किसी ईमेल को उसके स्रोत से वापस ढूंढते हैं, तो आपके पास यह पता लगाने का थोड़ा सही मौका है कि ईमेल कौन (या कहां!) से आता है। अब ऐसे करके आप इंटरनेट scam या फिशिंग ईमेल से बच सकते है।  जिससे आपका बड़ा नुकसान नहीं होगा। आप चाहे तो उस ईमेल को permanently ब्लॉक कर सकता है। 

How to Trace an Email Address/ ईमेल एड्रेस का पता कैसे करे ?

आप किसी भी ईमेल एड्रेस के full email header को देखकर ये पता कर सकते है की उस ईमेल को किसने भेजा है। दरअसल ईमेल हेडर में रूटिंग जानकारी और ईमेल मेटाडेटा शामिल होता है यह वह जानकारी  है, जिसकी सामान्य रूप से हम परवाह भी नहीं करते हैं।  लेकिन यह किसी भी ईमेल एड्रेस को ट्रेस करने के लिए काफी होता है। 

अधिकांश ईमेल यूजर अपना पूर्ण ईमेल हेडर को display के रूप में प्रदर्शित नहीं करते हैं क्योंकि यह तकनीकी डेटा से भरा है और अप्रशिक्षित आंखों के लिए कुछ हद तक बेकार होता है ।

हालाँकि, अधिकांश ईमेल प्रोवाइडर पूर्ण ईमेल हेडर की जाँच करने का एक तरीका प्रदान करते हैं। आपको बस यह जानने की जरूरत है कि कहां देखना है, साथ ही साथ आप क्या देखना चाहते है। 

  • Gmail फुल ईमेल हैडर: अपना जीमेल अकाउंट खोलें, फिर वह ईमेल खोलें जिसे आप ट्रेस करना चाहते हैं। ऊपरी-दाएँ कोने में ड्रॉप-डाउन मेनू चुनें, फिर Show original दिखाएँ।
  • Outlook फुल ईमेल हैडर: उस ईमेल पर डबल-क्लिक करें जिसे आप ट्रेस करना चाहते हैं,उसके बाद हेड टू फाइल पर जाये उसके बाद प्रॉपर्टीज को चुने। इसके बाद जानकारी इंटरनेट हेडर में दिखाई देती है।
  • Apple मेल फुल ईमेल हैडर: वह ईमेल खोलें जिसे आप ट्रेस करना चाहते हैं, फिर हेड to view > मैसेज> रॉ सोर्स।

हलाकि जब आप इसे ओपन कर लेते है तो आप पाएंगे की इसमें बहुत सा डाटा है जो निश्चय ही आपको थोड़ा कंफ्यूज कर देगा।  तो इसके लिए एक उपाय है आप इसे निचे से ऊपर के क्रम में पढ़े। आप पाएंगे की इसमें बहुत से जानकारिया दी गयी है तो चलये इसे थोड़ा सरल करते है आपके के लिए। 

  • Reply-To : वह ईमेल पता जिस पर आप अपनी प्रतिक्रिया भेजते हैं।
  • From/प्रेषक: संदेश भेजने वाले को प्रदर्शित करता है। 
  • Content-type/सामग्री-प्रकार: आपके ब्राउज़र या ईमेल क्लाइंट को ईमेल की सामग्री की व्याख्या करने का तरीका बताता है। 
  • MIME-संस्करण: उपयोग में आने वाले ईमेल प्रारूप मानक की घोषणा करता है। MIME-संस्करण आमतौर पर “1.0” होता है।
  • Subject : ईमेल के अंदर का विषय।
  • To: ईमेल के इच्छित प्राप्तकर्ता या अन्य पते ।
  • DKIM-हस्ताक्षर: Domain Keys Identified Mail उस डोमेन को प्रमाणित करता है जिससे ईमेल भेजा गया था और उसे ईमेल स्पूफिंग और प्रेषक धोखाधड़ी से बचाने के लिए दिया जाता है। 
  • Recevied : received लाइन आपको ये बताता है की कोई भी ईमेल आपके इनबॉक्स आने से पहले कितने सर्वर से होकर गुजरी है।  
  • Authentication-Results/प्रमाणीकरण-परिणाम: इसमें किए गए प्रमाणीकरण जांच का रिकॉर्ड होता है, इसमें एक से अधिक प्रमाणीकरण विधि हो सकती है।
  • Received-SPF/प्राप्त-एसपीएफ़: प्रेषक नीति ढांचा (एसपीएफ़) ईमेल प्रमाणीकरण प्रक्रिया का हिस्सा है जो प्रेषक के पते की जालसाजी को रोकता है।
  • Return path : वह स्थान जहां non-send या बाउंस मैसेज समाप्त होते हैं।
  • ARC /एआरसी-प्रमाणीकरण-परिणाम: प्रमाणीकृत प्राप्त श्रृंखला (Authenticated Receive Chain)  एक अन्य प्रमाणीकरण मानक है;ARC  उन ईमेल मध्यस्थों और सर्वरों की पहचान की पुष्टि करता है जो आपके संदेश को उसके अंतिम गंतव्य तक फॉरवर्ड करते हैं।
  • एआरसी-संदेश-हस्ताक्षर (ARC-Message-Signature): हस्ताक्षर डीकेआईएम के समान, सत्यापन के लिए मेसेज हैडर जानकारी का एक स्नैपशॉट लेता है।
  • एआरसी-सील(ARC-Seal): एआरसी प्रमाणीकरण परिणामों और संदेश हस्ताक्षर को “सील” करता है, उनकी सामग्री की पुष्टि करता है; डीकेआईएम के समान।
  • एक्स-प्राप्त (X-Received): X-Received,”Received” से अलग है इसे गैर-मानक माना जाता है; यानी, यह एक स्थायी पता नहीं हो सकता है, जैसे कि मेल ट्रांसफर एजेंट या जीमेल एसएमटीपी सर्वर। 
  • X-Google-Smtp-Source: Gmail SMTP सर्वर का उपयोग करके ईमेल को स्थानांतरित करना दिखाता है।
  • डिलीवर-टू: इस हेडर में ईमेल का अंतिम प्राप्तकर्ता होता है। 

आपको यह समझने की ज़रूरत नहीं है कि ईमेल को ट्रेस करने के लिए इन सभी चीजों का क्या मतलब है। लेकिन अगर आप ईमेल हेडर को देखना सीखते हैं, तो आप जल्दी से Email भेजने वाले का पता लगाना शुरू कर सकते हैं।

ईमेल के मूल प्रेषक (Original Sender) का पता लगाना

मूल ईमेल प्रेषक के आईपी पते (IP Address )  का पता लगाने के लिए, पूर्ण ईमेल हेडर में पहले प्राप्त करें पर जाएं। पहली रिसीव्ड लाइन के साथ उस सर्वर का आईपी एड्रेस होता है जिसने ईमेल भेजा था। कभी-कभी, यह एक्स-ओरिजिनिंग-आईपी या ओरिजिनल-आईपी के रूप में प्रकट होता है।

ईमेल और आईपी पते का पता लगाने के लिए 3  नि:शुल्क tools 

  1. GSuite Toolbox Message header
  2. MX Toolbox Email Header Analyzer
  3. IP-Address Email Header Trace (email header analyzer + IP address tracer)
Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *