How to create great content while saving time?

How to create great content while saving time?

समय की बचत करते हुए बढ़िया content कैसे बनाएं?

 

समय की बचत करते हुए बढ़िया सामग्री कैसे बनाएं? How to create great content while saving time?

 

इस बात से आज कोई भी वयक्ति इंकार नहीं कर सकता है खासकर जो ब्लॉग्गिंग या सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफ्रॉम को यूज़ करते हुए एक अच्छा content अपने दर्शको या पाठको तक पहुंचना चाहते हो उनको “समय” की कमी बहुत महसूस होतो होगी। 

 

Time management करना एक अच्छे कंटेंट क्रिएटर के लिए बहुत ही ज़रूरी चीज़ है , चूँकि उन्हें बहुत सारे चीज़ो को ध्यान में रखकर ही अपना Content तैयार करना होता है जिसके लिए उन्हें बहुत सारे research वर्क करने होते है  तभी जाकर ही वो अपने दर्शको तक कुछ अच्छे और ज्ञानवर्धक कंटेंट पहुंचा पाते है। तो आईये जानते है अगर आप एक नए ब्लॉगर या content creator है तो कैसे अपने समय की बचत करते हुए  सूंदर और अच्छे कंटेंट लोगो तक पहुंचाएंगे। 

 

इस बात से कोई इंकार नहीं है कि content निर्माण में समय लगता है। आपको यह सोचना पड़ता है कि क्या पोस्ट करना है, कैसे ग्राफिक बनाना है, एक कैप्शन को कैसे लिखना है, सही हैशटैग चुनना है, कंटेंट के बन जाने के बाद उसे पोस्ट करना है, साथ ही दर्शको के साथ जुड़ाव भी रहता है। 

 

इन सभी चीज़ो को आपको बार बार दोहराना है जिसके लिए आपको टाइम मैनेजमेंट करना ही पड़ेगा। जैसा की आप जानते ही होंगे की आज Internet की वजह से इसमें गुड competition बढ़ी है जो सही भी है , तो आपको हमेशा अपडेट रहना पड़ता है जिसके लिए भी आपको अपने काम और रिसर्च वर्क के साथ पर्सनल लाइफ को भी बैलेंस करना है। ऐसे में सही कंटेंट बनाना भी एक challenging काम है।  

 

यदि आप इन चीज़ो में सामंजस्य लाना चाहते है , तो समय सीमा की योजना बनाना और सोशल मीडिया कंटेंट बनाने के लिए एक स्थायी रणनीति का पता लगाना उचित है। इसे हासिल करने की कुंजी के दो पेहलू है- 1.पहले से योजना बनाना और 2. बैच वर्किंग कंटेंट क्रिएशन

 

Multitasking/मल्टीटास्किंग

 

चलिये कुछ समय के लिए उस चीज़ के बारे में बात करें जो हम सभी करते हैं—मल्टीटास्किंग। मल्टीटास्किंग अक्सर productive लगता है क्योंकि आप “सभी चीजें” एक साथ कर रहे हैं, लेकिन वास्तव में, मल्टीटास्किंग को आप ऐसा मानकर चले की इसे आपको नहीं करना है। 

 

अब आप सोच रहे होंगे की मल्टीटास्किंग करना गलत कैसे तो इसका कारण है की कुछ शोध में यह अनुमान लगाया गया है कि ऐसे जो भी लोग मल्टीटास्किंग करते है उनमे से केवल 2% आबादी ही वास्तव में मल्टीटास्किंग में कुशल है। जब आप एक काम जो वास्तव में आप कर रहे होते है से दूसरे कार्य पर स्विच करते हैं, इसी तरह और भी काम आप एक साथ करते है , तो वास्तव में किसी कार्य को पूरा करने में 50% अधिक समय लगता है। इशलिये मल्टीटास्किंग को थोड़ा अवॉयड ही करना चाहिए अगर आप प्रोडक्टिव कंटेंट पे काम कर रहे है तो । 

 

आपको क्या करना चाहिए निचे बताया गया है जो आपके समय को बचायेगा। 

 

 

सामग्री योजना प्रक्रिया/Content Planning Process

 

  • हर महीने आप,अगले महीने के लिए अपनी सोशल मीडिया कंटेंट की लिस्ट को तैयार करे और उसे पूरा करने के लिए अलग समय निर्धारित करें।

 

  • उन कंटेन्ट विषयों की लिस्ट को चिन्हित करके जिन्हें आप पूरे महीने कवर करना चाहते हैं, आप उनपर अच्छे से शोध कर पाएंगे जिससे आपके द्वारा बनाये गए कंटेंट की गुणवत्ता अच्छी होगी जो लोगो को पसंद आएगी। 

 

  • पदो कि संख्या/Number of Posts – आप प्रत्येक सप्ताह कितनी बार पोस्ट करते हैं (या पोस्ट करना चाहते हैं)? ध्यान रखें कि पोस्ट की संख्या की तुलना में गुणवत्ता और निरंतरता अधिक महत्वपूर्ण है। एक schedule और frequency से चिपके रहें जिसे आप लंबे समय तक बनाए रख सकते हैं।

 

  • Goals या लक्ष्य- महीने के लिए आपके ओवरआल लक्ष्य क्या हैं? आपकी सामग्री उन लक्ष्यों का समर्थन कैसे कर सकती है? इस बात को जरूर ध्यान में रखे। 

 

  •  क्या आपके पास कोई नया प्रोडक्ट या सर्विस लॉन्चिंग, या कोई ईवेंट है? उन्हें पहले अपनी योजना में शामिल करें, ताकि आप उनके आस-पास की सहायक कंटेंट बना सकें।

 

What Is Batch working? बैच वर्किंग क्या है। 

 

बैच वर्किंग काम करने का एक अत्यधिक फोकस्ड , विषय-विशिष्ट ( topic-specific) रूप है। बैच में  काम करते समय, आप अपने काम को अलग-अलग घंटों/दिनों में बांटते हैं और एक समय में केवल एक ही चीज़ पर ध्यान केंद्रित करते हैं। बैच वर्किंग को आपके निजी जीवन और कार्य के सभी क्षेत्रों में लागू किया जा सकता है, लेकिन यहां हम इस पर ध्यान देंगे कि सामग्री निर्माण (content creation) के लिए इसका उपयोग कैसे किया जाए।

 

इसके पीछे विचार यह है कि एक समय में एक कार्य पर ध्यान केंद्रित करके,आप कंटेंट क्रिएशन की गुणवत्ता में बढ़ोतरी की स्थिति में आ सकते हैं, जब आपकी उत्पादकता और रचनात्मकता वास्तव में फलती-फूलती है तो ये आपके दर्शको तक पहुंचती है । अंतिम परिणाम कम समय में बेहतर गुणवत्ता वाली कंटेंट है। 

 

 

 

 

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *